बहनों!! एक रक्षा सूत्र उनके लिए भी, जो बॉर्डर पर हम सब की रक्षा के लिए जग रहे हैं - Silsila Zindagi Ka
  • Welcome To My Blog

    बहनों!! एक रक्षा सूत्र उनके लिए भी, जो बॉर्डर पर हम सब की रक्षा के लिए जग रहे हैं

     

    बहन ने बड़े प्यार से पूछा- भईया कल रक्षाबंधन है, मुझे क्या दोगे ? और भाई आर्मी में था जो, उदास था और थोड़ा खुश भी। क्योंकि उसे फोन आ गया था और  रक्षाबंधन के दिन ही उसे निकलना था बॉर्डर पर। और भाई ने आंखों के आंसू छुपाते हुए कहा था-   तुम्हें मैं क्या दूँगा  ये मालूम नहीं? लेकिन इस देश के हज़ारों भाई तुम्हारे लिए उपहार ले कर खड़े हैं। 

    बहना इस बात को तुरंत समझ गई और उसने भी अपने आँसू को आँखों में छुपाते हुए कहा- भैया, उपहार तो मिल गया है कब का। आपके जैसा भाई जिसके पास हो उसके लिए और बड़ा उपहार क्या हो सकता है? मैं क्या? देश की हज़ारों बहनों की रक्षा का सूत्र आपके हाथ में हैं, जिनके लिए आप बॉर्डर पे खड़े हैं। आप जाईए बॉर्डर पर। 

    और अगले दिन भाई देश की रक्षा  के लिए अपनी बहना का रक्षा सूत्र पहनकर चला जाता है। सचमुच, हमें नाज़ है ऐसे स्वाभिमानी भाई पर।   

    बहना की आवाज़ में भाई के लिए कुछ प्यार भरे शब्द-: 

    तुम नाज़ भी हो मेरे
    और अभिमान भी हो!
    मेरे प्यारे भैया भी हो
    देश की शान भी हो!!
    मेरी जान तो हो ही भैया
    सब  बहना की भी  जान हो!!
    तुम सबका ऐतबार हो
    तुम  सबका  प्यार  हो !
    तुम लौटकर न आओ सही
    पर तुम सबका इंतज़ार हो!!
    तुम धड़कन हो, तुम चाहत हो
    तुम हर आँख की नींद
    और सबके लिये राहत हो!!
    देश की हर बहना के लिये
    अपना हर पल अर्पण कर देना! 
    जान देने की भी बात आये
    तो अपनी जान समर्पण कर देना!
    HAAPY RAKSHABANDHANAN BHAIA!!


    दोस्तों! मैं आप सब से ग़ुज़ारिश करूँगा, कि आप अपनी बहना की रक्षा बंधन अपनी कलाई पर ज़रूर धारण करना। आप दूर भी हैं और अगर आपको यह रक्षा सूत्र आप तक नहीं पहुंच पाया है तो भी खरीद कर अपनी बहना के नाम से उसे अपनी कलाई पर लगाना। 

    लेकिन specially मैं अपने ब्लॉग की तरफ़ से देश की उन सारी बहनों से एक अनुरोध करता हूँ...सीमा पर तैनात उन सैनिक भाईयों के नाम भी एक रक्षा सूत्र कहीं ज़रूर बांध देना जो देश के सुकून और हमें, तुम्हें सुलाने के लिए अपनी आंखों की नीदं हराम करते हैं। उनकी रक्षा में ही सभी की रक्षा है।

    मैं दुआ करता हूँ कि यह रक्षाबंधन का पावन त्योहार इसी तरह चलता रहे और हर किसी का "सिलसिला ज़िन्दगी का" आगे बढ़ता रहे। 
    ONCE AGAIN.....HAPPY RAKSHA BANDHAN!!!

    2 comments: