ज़िन्दगी आ रहा हूँ मैं।।Zindagi Aa Raha hun Mai - Silsila Zindagi Ka
  • Welcome To My Blog

    ज़िन्दगी आ रहा हूँ मैं।।Zindagi Aa Raha hun Mai

    Zindagi Aa Raha Hun Mai


    फिर से नया आगाज़ लेकर
    फिर से नया अंदाज़ लेकर
    फिर से नया जज़्बात लेकर
    फिर से नई बिसात लेकर
    नया तराना गया रहा हूँ मैं।
    ज़िन्दगी आ रहा हूँ मैं।।

    अब कुछ ख़ास पैदा होगा
    अब नया इतिहास पैदा होगा।
    ये ज़मीं, आसमाँ हमारा होगा
    मेरे नाम का चमकता सितारा होगा।।

    अब कुछ बड़ा अंज़ाम होगा
    हर ज़ुबाँ पर मेरा ही नाम होगा।
    हर मुश्किल दौर बीत जाएगा
    ज़माना मेरे नाम का गीत  गायेगा।।

    हर फ़िक्र को धुएं में उड़ा रहा हूँ मैं।
    ज़िन्दगी आ रहा हूँ मैं।।




    No comments:

    Post a Comment