MAGIC OF POSITIVE THINKING - Silsila Zindagi Ka
  • Welcome To My Blog

    MAGIC OF POSITIVE THINKING

                             

                               Silsila Zindagi ka


    दोस्तों! क्या आप Magic of Positive thinking के बारे में  जानते हैं? यह क्या होता है और हर इंसान के जीवन में इसका क्या महत्व है? 

    कहते हैं कि हमारी सोच ही हमारी ज़िन्दगी का फैसला करती है. यानि जैसा हम सोचते हैं, हम वैसा ही बन जाते हैं. हमारी सोच महज़ सिर्फ सोच ही नहीं होती, बल्कि हर इंसान के सफल और सुखमय जीवन                                         का एक श्रोत भी है सोच. 

    अगर बात की जाए Positive Thinking की तो मैं तो बस इतना ही कहूंगा- If You can'nt think positive, you can'nt achieve anything in your life. और यह सच है. शायद आपको इस बात पर यकीन नहीं होगा कि Positive thinking में कितना जादू है? और यह जादू कहीं दुसरी जगह से नहीं आता, बल्कि यह आपके दिमाग, मन और दिल से उपजता है और हमें वैसा ही बनाता है जैसा कि हम सोचते हैं. 

    1. If You think postive, Your Life is Bright:
    छोटा सा जीवन है और सफर बहुत लम्बा है. इसी सफर में दुःख-सुख, अमीरी-गरीबी सभी को झेलना है, कभी ज़िन्दगी आप से खेलेगी, कभी आपको ज़िन्दगी से खेलना है. लेकिन याद रखना आगे बढ़ते हुए हर हाल में आपको Positive ही सोचना है. फिर देखना आपका जीवन रोशन हो जाएगा। 

    2. Say Always yes, I can do it:
    दोस्तों! कभी भी, किसी भी परिस्थिति में अपने दिली-दिमाग में Negativity को  जगह मत देना। चाहे, परिस्थति आपके पक्ष में हो या आपके विपरीत। उनका डंटकर मुक़ाबला करना. उनसे जमकर जंग लड़ना. देखना, एक दिन आप जीत जाओगे। लेकिन जीतने के लिए ज़रूरी है कि आपको खुद से हर वक़्त यही बात कहनी है Yes, I can do it.

    3. Say Always, I am a Good And great person:
    अपने आप से रोज़ कहो- I am a Good And Great person. मैं बड़ा बनने के लिए पैदा हुआ हूँ और एक दिन मैं बड़ा बनूंगा। मुझे हर हाल में अपने लक्ष्य को हासिल करना है. मैं हर समस्या का समाधान निकालने में समर्थ हूँ और मैं सोचूंगा मेरे साथ  होगा। जिस दिन आपके अंदर  सोच उत्पन्न हो जाएगी उसी दिन आप महान बन जाओगे। 

    4. Positivity comes from your good work:

    इस बात को अपने मन में बिठा लो आप कि Positivity आपके अच्छे कर्मों से उत्पन्न होती है. एक प्रसिद्ध  कहावत है- जैसा खाओगे अन्न, वैसा होगा मन. ठीक उसी तरह जैसा करोगे कर्म, वैसा मिलेगा मर्म। सो अच्छा काम सिर्फ अच्छा ही नहीं होता है, बल्कि इसका परिणाम भी बहुत अच्छा होता है और अच्छे कामों के द्वारा आप सकारत्मका हासिल कर सकते हैं. 

    5. Trust Yourself:
    दोस्तों! अपने आप पर विश्वास करना सीख लो, वर्ना कुछ भी आप हासिल नहीं कर पाओगे. जिस दिन से आपको अपने आप पर विश्वास होना शुरू हो जाएगा, उसी दिन से आप सकारात्मक होते जाओगे और इसमें संदेह नहीं कि  आपके जीवन में बदलाव भी आने शुरू हो जायेंगें. आपको पता है- अधिकाँश लोग बार-बार क्यों असफल हो जाते हैं? क्योंकि उन्हें खुद पर भरोसा ही नहीं होता है. इसलिए बार-बार की असफलता उनके मन में Negativity भर जाती है. अगर इस Negativity से आपको  बचना है और सकारत्मक बनना है तो Trust Yourself. 

    तो दोस्तों! मैं चाहता हूँ कि आप भी पहचानें Magic of Positive Thinking को और अपनी ज़िंदगी को सही राह पर लेकर जाएँ।
    ताकि मुस्कुराते और गुनगुनाते हुए आपका सिलसिला ज़िन्दगी का यूं ही चलता रहे. 
    फिर ज़ल्दी  मिलते हैं एक नए विषय के साथ. तब तक के लिए Bye-Bye.

    2 comments:

    1. Bahut badhiye post likha hai aapne bhai or aapka blog bhi bahut motivational hai.

      ReplyDelete