• Welcome To My Blog

    लव-love

    लव

    लव महज़ दुनिया की सबसे ख़तरनाक बीमारी है। जो सबको होता है और ज़रूर किसी ना किसी को बर्बाद कर देता है।
    ये बताओ कि लव किसे नहीं हुआ? और जिसको लव हुआ उसकी लग गई। तो क्या लव नहीं करना चाहिए? सवाल यह उठता है कि लव करना चाहिए या नहीं? अब आप बताइए?
    अगर आप मुझ से पूछेंगे कि लव करना चाहिए या नहीं? तो मैं तो बस आपसे यही कहूंगा कि लव करना चाहिए मगर यह ध्यान में रख कर कि ये लव मुझे बर्बाद कर रहा है या आबाद?

    मैंने बहुत पहले अपने एक दोस्त को देखा था जिसने लव किया था। पागल था उस लव के पीछे। दीवाना था उस लव के पीछे। बहुत brilliant था वो। लेकिन एक दिन ऐसा आया कि वो अपने उस लव के पीछे बर्बाद हो चुका था। पूरी तरह बर्बाद।

    एक बात तो सच है कि आज कल का लव दिल से शुरू होता है और ज़िस्म पर जा कर खत्म हो जाता है तो क्या आप इसे भी लव ही कहेंगे! 

    मेरी नज़र में लव यह नहीं है। लव तो ये है कि हम एक दूसरे के लिए फ़ना हो जाएं। हम एक दूसरे के लिए जीयें और मरें।

    बर्बाद होने को लव नहीं कहते हैज, बल्कि आबाद होने को लव कहते हैं। कई लोग ऐसे होते हैं, जो लव के लिए ही जीते हैं और लव के लिए ही मरते हैं तो क्या है उनकी ज़िंदगी?  आप खुद ही सोच सकते हैं।

    मैं आपको बता दूं कि मैंने भी लव किया है। लेकिन मैं आज भी यही सोचता हूँ कि जो आप पहला लव करते हैं, वही आपकी ज़िंदगी का सच्चा और आखिरी लव होता है, जो आपको हमेशा याद आता है
    ये लव ही तो है जो एक दूसरे को जोड़े रखता है, दिल से दिल को। ये लव न होता तो क्या होता। ना ज़मीं होती ना आसमाँ होता।

    लव करना कोई गुनाह नहीं लेकिन ध्यान रहे कि लव हमेशा सोच समझ कर ही करना चाहिए और हमेशा इस बात को ध्यान में रखते हुए करना चाहिए कि यही ज़िन्दगी है, यही हमारी बंदगी है और यही हमारी हर खुशी है।

    हाँ, ये अलग बात है कि लव कब और कहां हो जाये?  पर जब भी होता है,  जहाँ भी होता है लव तो लव है।

    CONCLUSION
    दोस्तों! आपने भी क्या कभी किसी से लव किया है? अगर किया है तो मुझे ज़रे बताइये। और मैं यही चाहूंगा कि आपका और आपके लव का "सिलसिला ज़िन्दगी का" हमेशा चलता रहे। Bye-Bye

    No comments:

    Post a Comment

    Featured Post

    आइंस्टाइन के सिद्धांत को चुनौती देने वाले बिहार के महान गणितज्ञ

    आइंस्टाइन के सिद्धांत को चुनौती देने वाले बिहार के महान गणितज्ञ  डॉक्टर वशिष्ठ नारायण सिंह कभी उन्हें चेहरे पर मुस्कुराहट लिए तो कभी आ...