• Welcome To My Blog

    Pulmawa Revenge- हिन्दुस्तान ज़िन्दाबाद! हिन्दुस्तान ज़िन्दाबाद

    Pulmawa Revenge- हिन्दुस्तान ज़िन्दाबाद! हिन्दुस्तान ज़िन्दाबाद

    Silsila Zindagi Ka, Hindustan Zindabad!
    Hindustan Zindabad!

     हर कलेजे को ठंडक मिली है
    अब हर मुरझाई कली खिली है,
    अब हर चेहरा मुस्कुरा रहा है
    अब हर ज़ुबाँ यही गा रहा है।
    हिंदुस्तान ज़िंदाबाद!
    हिंदुस्तान ज़िंदाबाद!

    दिखा दिया है ताकत अपनी

    भारत के वीर ज़वानों ने,
    दुश्मन को धूल चटा दिया
    आज भारत के दीवानों ने।

    सोच रहे हैं दुश्मन भी अब

    ये कैसी क़यामत आई है,
    कहाँ जाएं अब कहाँ छुपे
    अब कहाँ अपनी भलाई है।

    दुश्मन को घर में मारे हैं

    दुश्मन को घर में मारेंगे,
    जो आँख उठा कर देखेगा
    उसको भी जन्नत सिधारेंगे।

    तुम मारोगे जो चालीस को

    हम चार सौ को सुलायेंगे,
    नहीं जीयोगे सुकूं से कभी
    हम खून के आँसू रुलायेंगे।

    यह छोटी सी एक झलक थी

    आशा है अब सुधर जाओगे,
    फिर किये कभी उल्टा-सीधा
    तो पूरी तरह बिखर जाओगे।

    यह देश है वीर ज़वानों का

    यह ज़ुर्म तुम्हारा नहीं सहेगा,
    ज़िंदाबाद हमेशा था हिदुस्तां
    और हमेशा ज़िंदाबाद रहेगा।

    हर मंज़र आज गुनगुना रहा है,
    हर दिल आज यही गया रहा है।
    हिंदुस्तान ज़िंदाबाद!
    हिंदुस्तान ज़िंदाबाद!







    No comments:

    Post a Comment

    Featured Post

    आइंस्टाइन के सिद्धांत को चुनौती देने वाले बिहार के महान गणितज्ञ

    आइंस्टाइन के सिद्धांत को चुनौती देने वाले बिहार के महान गणितज्ञ  डॉक्टर वशिष्ठ नारायण सिंह कभी उन्हें चेहरे पर मुस्कुराहट लिए तो कभी आ...