वो ही एक दिन नया इतिहास लिखते हैं - Silsila Zindagi Ka
  • Welcome To My Blog

    वो ही एक दिन नया इतिहास लिखते हैं



    वो   ही  एक  दिन  नया   इतिहास   लिखते   हैं ।

    जो वक़्त से आगे निकलने का हौसला रखते हैं ।। 


    वो  ही एक दिन ज़िन्दगी में कुछ  कर गुज़रते हैं। 

    जो   खुद को   बदलने   का   हौसला   रखते हैं ।। 


    जीत   का   नया   फ़साना  तो वो ही लिखते हैं । 

    जो   हर  हाल में  चलने  का  हौसला  रखते  हैं ।। 


    वो   एक  दिन  मंज़िल  तक  पहुंच  ही जाते हैं । 

    जो   गिरकर  सम्भलने  का  हौसला  रखते  हैं ।। 


    उनकी   ज़िन्दगी  तो  अंधेरे  में  भी   रोशन  है । 

    जो  सूरज  की  तरह  ढ़लते  और  निकलते हैं ।।

    No comments:

    Post a Comment