THE REAL SUPER STAR OF BOLLYWOOD- AMITABH BACHCHAN - Silsila Zindagi Ka
  • Welcome To My Blog

    THE REAL SUPER STAR OF BOLLYWOOD- AMITABH BACHCHAN

    WELCOME TO MY BLOG: SILSILA ZINDAGI KA



    WISH YOU A HAPPY BIRTHDAY "MR.AMITABH BACHCHAN SAHAB"
    दोस्तों! आज हिंदी सिनेमा के महानायक, सदियों के सुपर स्टार, BOLLYWOOD के शहंशाह "अमिताभ बच्चन " जी का जन्मदिन है। 
    उनके इस जन्म दिवस के शुभ अवसर पर मैं अपने ब्लॉग की तरफ से हार्दिक शुभकामनाएं देता हूँ और तहे-दिल से दुआ करता हूँ कि यह दिन उनके जीवन में बार-बार आये और इसी तरह आप मुस्कुराते रहिये। WISH YOU A HAPPY BIRTHDAY AMITABH BACHCHAN SAHAB.

    ये भी पढ़ें:DEAR ZINDAGI

    दुनिया सामने  बैठी है और बड़े से स्टेज पर खड़ा एक इंसान बड़ी संजीदगी और हृदय से सबको संबोधित करते हुए बोलता है- देवियों और सज्जनों! और यह सुनते ही सबका मन पुलकित हो जाता है, उस व्यक्तित्व का नाम है- अमिताभ बच्चन। 

    वो जहाँ खड़े होते हैं और फिर लाइन जब वही शुरू हो जाती है तो दुनिया कहती है, वो हैं- अमिताभ बच्चन।


    रिश्तों के जोड़ते हुए धागे, चलते हुए वक़्त से आगे-हर पल मुस्कुराते हुए, एक नया पथ दुनिया को दिखाते हुए , आज भी जो अपना अस्तित्व बनाये खड़े हैं, उस व्यक्तित्व का नाम है - अमिताभ बच्चन।


    ये भी पढ़ें:JAGJIT SINGH GHAZALS

    जिसने दुनिया को शहंशाह और सुपरस्टार का वास्तविक मतलब समझाया, उस सुपरस्टार का नाम है- अमिताभ बच्चन।

    मंज़िल तक पहुंचकर, मंज़िल पर कैसे खड़ा रहा जाता है...बड़ा हो कर ज़िन्दगी में कैसे बड़ा रहा जाता है, ऐसी महानता का पाठ पढ़ाने वाले महान व्यक्तित्व का नाम है- अमिताभ बच्चन।


    ज़िन्दगी ज़िंदादिली से कैसे जी जाती है, हर इंसान को इसकी परिभाषा बताने वाला उस महान व्यक्तित्व का नाम है- अमिताभ बच्चन।


    रील लाइफ और रियल लाइफ, दोनों में शिद्दत और समर्पण से किस तरह आगे बढ़ा जाता है, इसका मतलब दुनिया को समझाने वाले व्यक्तित्व का नाम है- अमिताभ बच्चन।

    ये भी पढ़ें: GHAZALS AND SHAYARI


    अमिताभ बच्चन की महानता के बारे मेंं अगर मैं लिखना ज़ारी  रखूं तो शायद महीनों लग जाएगा। पर उनकी 
    तारीफ़ में शब्द कम पड़ जाएंगे।

    REAL LIFE OF MR.BACHCHAN

    उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद शहर से बिलांग करने वाले अमिताभ बच्चन के पिता श्री हरिवंशराय बच्चन जी एक प्रख्यात कवि थी।शुरुवाती दौर में अमिताभ बच्चन का नाम इंकलाब रखा गया था, जो भारतीय स्वतन्त्रता संग्राम के विख्यात वाक्यांश इंकलाब जिंदाबाद से लिया गया है।
    हालांकि बाद में चल कर इंकलाब से इनका नाम परिवर्तित हो कर अमिताभ रख दिया गया और तब किसे पता था कि यही नाम एक दिन दुनिया में ब्रांड बन जायेगा और इस नाम के इर्द-गिर्द कोई नाम नहीं रह जायेगा।

    REEL LIFE OF MR.BACHCHAN

    अमिताभ बच्चन के REEL LIFE शुरुआत ख़्वाजा अहमद अब्बास के निर्देशन में बनी फिल्म सात हिंदुस्तानी से हुई। हालांकि एक दौर ऐसा भई आया जब लगने लगा कि उनका करियर अब समाप्त हो और उनका फिल्मी सफ़र अब यहीं रुक जाएगा। क्योंकि हर इंसान के जीवन में उतार-चढ़ाव देखने को मिलते हैं। उसी तरह बच्चन साहब का जीवन भी उतार -चढ़ाव से गुजरा। लेकिन अमिताभ बच्चन ने कभी भी, किसी भी परिस्थिति में हार नहीं मानी।
    और 1973 का वो दौर जब प्रकाश मेहरा ने उन्हें फ़िल्म ज़ंज़ीर में काम करने का ऑफर दिया और इसके बाद बच्चन साहब का सितारे इस तरह बुलंद हुए कि वो बन गए बॉलीवुड के शहंशाह।
    फिर उन्होंने कभी पीछे मुड़कर कभी नहीं देखा।

    AMITABH BACHCHAN'S MOVIES
    यूं तो अमिताभ बच्चन का मतलब ही सिनेमा होता है और सिनेमा का मतलब ही अमिताभ बच्चन होता है। एक नहीं उनकी हर फिल्म सराहनीय हैं। शहनशाह, शोले, सिलिसले, DON, BLACK, PAA. बच्चन साहब ने जिस दौर में जिस फ़िल्म में जो भी भूमिका निभाया, वो अपने आप में इतिहास बन गया। तभी तो हर एक्टर का सपना होता है मिस्टर बच्चन बनने का।

    AMITABH BACHCHAN'S AWARDS
    वो अवार्ड भी अपने आपको गौरवान्वित महसूस करता होगा, जो श्री बच्चन के हाथों से स्पर्श हो जाता होगा। वैसे बच्चन साहब ने अपने कैरियर में 3Times National Awards, 12 Filmfare Awards. साथ ही इन्हें इंडस्ट्री में सबसे ज़्यादा बार सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के पुरस्कार से नवाज़ा गया है। बच्चन साहब तो ठहरे बच्चन साहब। ना तो उनके जैसा कोई नहीं और ना ही हो सकता है। उनकी जगह कोई नहीं ले सकता है।

    WHO IS NOT FAN OF MR.BACHCHAN?
    मुझे नहीं लगता कि दुनिया में आ कोई भी ऐसा होगा जो अमिताभ बच्चन साहब का फैन होगा। उनकी दीवानगी हमेशा लोगों के सर चढ़ कर बोलती है। सदियों  का महानायक के दीवानों की आज भी लंबी तादाद है और हमेशा रहेगी। क्योंकि वो कोई साधरण इंसान नहीं बल्कि बॉलीवुड का शहंशाह है। हारी बाज़ी को भी वो जीतना जानते हैं। जिधर चल देते हैं, हवा का रुख भी उधर ही मुड़ जाता है। उनको देखकर तो यही लगता है- जाने कब और कहाँ से आये हैं। उन्होंने ख़ुद को गढ़ा है या खुदा ने उन्हें बनाया है।

    I ALWAYS FEEL PROUD
    "मैं उस देश का निवासी हूँ, जिस देश में अमिताभ बच्चन रहते हैं!" मुझे नाज़ है कि मैंने उस फिल्म इंडस्ट्री में बतौर लेखक अपना करियर चुना है, जिस इंडस्ट्री में बॉलीवुड के शहंशाह रहते हैं और मैं उस शहर में रहता हूँ जिस शहर में सदियों के महानायक श्री अमिताभ बच्चन रहते हैं और I ALWAYS FEEL PROUD".

    CONCLUSION
    दोस्तों! बच्चन साहब का आज भी रील और रियल दोनों लाइफ ज़ारी है। आज भी बिना थके, बिना रुके काम करते जा रहे हैं बॉलीवुड के डॉन मि.अमिताभ बच्चन।
    और हम दुआ करते हैं कि इसी तरह उनका यह सफर ज़ारी रहे। हर साल वो इसी तरह अपना जन्मदिन मनाते रहें।
    "सिलिसला ज़िन्दगी का" के आज के इस सफ़र में मैंने आने ब्लॉग के तरफ से बच्चन साहब के बारे में कुछ बताया।
    दोस्तों! आप क्या सोचते हैं अमिताभ बच्चन के बारे में हमें ज़रूर बताएं।

    No comments:

    Post a Comment